WCREU NEWS

रेलवे के निजीकरण के खिलाफ हुआ जन आंदोलन का आगाज

WCREU के बैनर तले रेल कर्मचारियों ने की जगह जगह द्वार सभाएं

गंगापुर सिटी 14 सितंबर।
रेलवे के निजीकरण के खिलाफ ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन एवं वेस्ट सेंट्रल रेलवे एंप्लाइज यूनियन के तत्वाधान में आज से शुरू हुए जन आंदोलन के प्रथम दिन रेलवे के पावर हाउस रेलवे अस्पताल स्टेशन एवं लोभी पर यूनियन कार्यकर्ताओं ने द्वार सभाओं का आयोजन किया इस अवसर पर दिल कर्मचारियों को संबोधित करते हुए यूनियन के नेताओं ने कहा कोरोना महामारी की आड़ में चल रहा है रेलवे बेचने का खेल चल रहा है। केंद्र सरकार रेलगाड़ियां रेलवे स्टेशन रेलवे कर्मचारियों के कार्यो एक-एक करके निजी करण करती जा रही है आज गंगापुर सिटी में यूनियन की शाखाओं द्वारा रेलवे पावर हाउस रेलवे अस्पताल रेलवे स्टेशन और लौबी पर रेल कर्मचारियों से संपर्क केंद्र सरकार की मजदूर विरोधी नीतियों के बारे में यूनियन पदाधिकारियों की चर्चा की, इस अवसर पर यूनियन के नेता मंडल उपाध्यक्ष नरेंद्र जैन मंडल सह सचिव श्री प्रकाश शर्मा लोको शाखा सचिव राजेश चाहर कैरी शाखा के अध्यक्ष गजानंद शर्मा यातायात शाखा के सचिव हरिप्रसाद मीणा कार्यकारी अध्यक्ष आर पी मंगल शरीफ मोहम्मद वीरेंद्र मीणा आदिल खान अब्दुल कासिम शरीफ मोहम्मद ने रेल कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा की रेल को बिकने से बचाने के लिए हो रहे इस जन आंदोलन मैं सब रेलकर्मी एक मंच पर इकट्ठे होकर केंद्र सरकार की नीतियों का जोरदार विरोध करें। इस अवसर पर यूनियन के पदाधिकारी लोडिंग फ्रैंकलीन संजय मीणा राय सिंह मीणा सुनील जांगिड़ कर्मवीर सिंह बलदेव मीणा गणेश पाल मीना अशोक कुमार एम राकेश मीणा मनमोहन शर्मा आरती मंगल राकेश सोनवाल अशोक कुमार गुप्ता देवी सिंह मीणा हरिमोहन मीना रामविलास मीणा तरुण यादव जुनैद खान नदीम मोहम्मद रघुराज सिंह लोकेश मीणा रामराज मीणा सीताराम बेरवा प्रसादी राम राजकुमार लोकेश जैन चंद्रभान मीना भरोसी सैनी पी पी अग्रवाल रमेश बाबू देवेंद्र गुर्जर विकास चतुर्वेदी सूरजपाल शाहिदा खान सहित सैकड़ों रेल कर्मचारी उपस्थित थे।
〰️〰️
कल मंगलवार को रेलवे के निजीकरण के खिलाफ हो रहे जन आंदोलन के तहत गंगापुर सिटी में रेलवे के माइक्रोवेव कार्यालय सुबह 9:15 बजे ,स्वास्थ्य विभाग मैं सुबह 6:45 बजे एवं रेलवे स्टेशन पर सुबह 10:00 बजे होगा मीटिंगों का आयोजन
〰️〰️
ट्रेन ऑपरेटिंग स्टॉफ के जॉब एनालिसिस के विरोध में यूनियन का धरना कल। 〰️〰️〰️
गंगापुर सिटी 14 सितंबर।
पश्चिम मध्य रेलवे महाप्रबंधक द्वारा ट्रेन ऑपरेटिंग स्टॉफ रेलवे स्टेशन मास्टर, कांटे वाले, पॉइंट्स मैन आदि के कार्यो की समीक्षा करने के लिए जॉब एनालिसिस करने का आदेश दिऐ है। रेल प्रशासन की मंशा उनके वर्किंग आवर 8 घंटे से बढ़ाकर 12 घंटे करने की है ।कोरोणा महामारी की आड़ में रेल प्रशासन ने यह आदेश जारी कर जॉब एनालिसिस के लिए कमेटियों का गठन करने के निर्देश जारी किए हैं। वेस्ट सेंट्रल रेलवे एंप्लाइज यूनियन के महामंत्री मुकेश गालव और जोनल अध्यक्ष रवि जायसवाल ने कड़े शब्दों में महाप्रबंधक को पत्र लिखकर इन आदेशों को तुरंत रद्द करने की मांग की है इसके साथ-साथ पश्चिम मध्य रेलवे के तीनों मंडल कोटा भोपाल और जबलपुर मैं भी यूनियन की मंडल कार्यकारिणी द्वारा मंडल रेल प्रबंधको को आंदोलन की चेतावनी देते हुए आदेशों को तुरंत रद्द करने की मांग की गई है। यूनियन के मंडल उपाध्यक्ष नरेंद्र जैन एवं यातायात शाखा के सचिव हरिप्रसाद मीणा ने बताया कि स्टेशन मास्टर पॉइंट्स मैन आदि कैटेगिरी मे इन आदेशों को लेकर जबरदस्त आक्रोश है। इसको देखते हुए यूनियन के बैनर तले मंगलवार को सुबह 10:30 बजे स्टेशन अधीक्षक कार्यालय का घेराव कर इन आदेशों को रद्द करने की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन किया जाएगा एवं इसके बाद सांकेतिक रूप से धरना भी दिया जाएगा। मंडल अध्यक्ष लोकेंद्र मीणा ने बताया कि कोटा मंडल के सभी स्टेशनों पर कल मंगलवार को स्टेशन पर तैनात गाड़ी संचालन से संबंधित कर्मचारी यूनियन के बैनर तले जॉब एनालिसिस के आदेशों को तुरंत रद्द करने की मांग को लेकर रेल प्रशासन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते हुए ज्ञापन देकर धरना देंगे।

Categories: WCREU NEWS