WCREU NEWS

मिनिस्ट्रीयल स्टाफ टारगेट वीक का समापन

Photo taken by : Rakesh

कोटा 24 अगस्त। वेस्ट सेन्ट्रल रेलवे एम्पलाईज यूनियन के आव्हान पर मिनिस्ट्रियल स्टाफ का टारगेट वीक दिनांक 17 अगस्त से 21 अगस्त 2020 तक आयोजन किया गया। जिसका समापन आज उमरावमल पुरोहित सभागार में किया गया।
यूनियन के महामंत्री श्री मुकेश गालव ने बताया कि मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय तथा अधीनस्थ कार्यालयों में कार्यरत मिनिस्ट्रियल स्टाफ को कार्य के दौरान काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है जिससे उनके कार्य में काफी दिक्कते आ रहे है। ऐसी अनेक समस्याओं को लेकर यूनियन के आव्हान पर पूरे पश्चिम मध्य रेलवे मिनिस्ट्रियल स्टाफ एकजूट होकर सरकार की मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ संघर्ष करने आगाज किया है। साथ ही मिनिस्ट्रियल स्टाफ के पिटीशन पर कर्मचारियों के हस्ताक्षर करवाये गए।
श्री गालव ने बताया कि रेलवे में पिछले काफी समय से लगातार मिनिस्ट्रीयल स्टाफ के साथ भेदभाव बरता जा रहा है। खास बात यह है कि जब भी सरकारी फरमान आता है कि स्टाफ में कटौती, पदों का सरेंडीकरण करना हो तो सबसे आसान शिकार यही मिनिस्ट्रीयल स्टाफ होता है, जिसका पुरजोर विरोध वेस्ट सेंट्रल रेलवे एम्पलाइज यूनियन (डबलूसीआरईयू) ने करते हुए सोमवार 17 अगस्त से 21 अगस्त तक मिनिस्ट्रीयल स्टाफ टारगेट वीक का आयोजन कर किया। इस टारगेट वीक में लगातार पूरे सप्ताह मिनिस्ट्रीयल स्टाफ की समस्याओं को प्रशासन के समक्ष उठाया जाता रहा और उनकी मांगों के समर्थन में हरसंभव प्रयास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मिनिस्ट्रीयल स्टाफ के साथ हर स्तर पर सरकार, अधिकारी दोयम दर्जे का व्यवहार करते आ रहे हैं। जिसका पुरजोर विरोध यूनियन द्वारा किया जाता रहा है, अब इस आंदोलन को व्यापक रूप देने के लिए टारगेट वीक आयोजित किया गया है।
यह है मिनिस्ट्रीयल स्टाफ की प्रमुख मांगें
– मिनिस्ट्रीयल स्टाफ के पदों का सरेंडर बंद करो।
– मेडिकली डिकेटेग्राइज्ड स्टाफ को यथासंभव लिपिकीय संवर्ग में न पदस्थ कर अन्य संवर्गों में पदस्थ किया जाए।
– मिनिस्ट्रीयल स्टाफ के पदों को भरने के लिए कराये जाने वाले उपयुक्तता परीक्षा आदि के आयोजन में होने वाला विलंब रोका जाए।
– ई आफिस के लिए सभी कार्यालयोंध्डिपो में कम्प्यूटर, स्कैनर आदि पर्याप्त संख्या में उपलब्ध कराये जाएं तथा स्टाफ के लिए ट्रेनिंग की व्यवस्था की जाए।
– स्टेनोग्राफरों की जीपी 2400 से 4200 में पदोन्नति हेतु स्पीड टेस्ट होने की शर्त समाप्त की जाए।
– लिपिकीय संवर्ग में जूनियर क्लर्क से चीफ ओएस तक कार्य के निस्तारण हेतु यार्डस्टिक नये सिरे से निर्धारित किया जाए।
– इंजीनियरिंग व अन्य डिपो में काम कं घंटों का निर्धारण किया जाए।
– वर्कशॉप्स में कार्यरत मिनिस्ट्रीयल स्टाफ को कारखाना स्टाफ की तरह इंसेंटिव स्कीम में शामिल किया जाए।
– कार्यालय डिपोज में मिनिस्ट्रीयल स्टाफ के लिए अच्छे फर्नीचर एवं उचित साफ-सफाई की व्यवस्था की जाए।
– मिनिस्ट्रीयल स्टाफ की भर्ती आरआरबी के माध्यम से करने पर लगी रोक तुरंत हटाई जाये।
– लेखा विभाग में एमएसीपीएस के अंतर्गत 4600 ग्रेड दी जा रही है, जबकि लेखा विभाग में 4800 ग्रेड पे है। प्रमोशनल ग्रेड पे 4800 दी जाये।
– पांचवें वेतन आयोग के अनुसार लेखा विभाग के कर्मचारियों को संशोधित वेतनमान 1-04-2003 से दिया गया, जबकि 01-01-1996 से दिया जााकर एरियर का भुगतान किया जाए।
– सातवें वेतन आयोग के दौरान लेखा विभाग के कर्मचारियों द्वारा संभोधित पीपीओ, वेतन निर्धारण एवं ड्यू-ड्रान के कार्य करने का मानदेय दिलाया जाए।
– स्थापना शाखा में कर्मचारियां को पद अनुसार कार्य का वितरण किया जाए, खाली पदों को भरने की कार्यवाही की जाए।
– कोरोना महामारी के चलते मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय में प्रवेश करने वाले प्रत्येक कर्मचारीध्व्यक्ति को मुख्य द्वार पर एक कर्मचारी को स्थायी रूप से बैठाया जाए, जो आने वाले व्यक्ति को सेनेटाइजर से हाथों को सेनेटाइज कराएं।
– विगत माह कई कर्मचारी कार्य के अवांचित वितरण से कार्य का अधिक दबाव होने के कारण स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले चुके हैं, इस तरह के ट्रेंड को रोका जाए।
– प्रत्येक अनुभाग में उपलब्ध कम्प्यूटरों की संख्या बढ़ाई जाए व कम से कम दो कम्प्यूटर के मध्य एक प्रिंटर उपलब्ध कराया जाए, प्रत्येक कम्प्यूटर पर इंटरनेट दिया जाए।
– ईडीपी सेंटर में कम्प्यूटर पर कार्य करने हेतु समुचित कुर्सियों की व्यवस्था की जाए, जिससे कार्य करने वाले कर्मचारियों की गर्दन व कमर में दर्द न हो।
– स्थापना शाखा में डीलिंग फाइलों को रखने हेतु प्रत्येक अनुभाग में कवर्ड कपबोर्ड की व्यवस्था की जाये।

मिनिस्ट्रियल टारगेट वीक के समापन पर शााखा अध्यक्ष सी.एल.लोधा, सचिव संजय शिवा, राजकुमार ठाकुर, राजकुमार सरसिया, अल्पना शुक्ला, ज्ञान दिक्षित, सुषमा राठौर, भावना काले,दिनेश श्रीवास्तव, तारा सिंह, नारायण गौतम, सहित मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय के मिनिस्ट्रियल स्टाफ मौजूद था

Categories: WCREU NEWS